Rs. 5,000 transferred to 8 lakh beneficiaries under widow, differently-abled and elderly pension schemes, Rs. 5000 more to be transferred in the first week of April: CM Kejriwal


  • Appeal to those who are leaving Delhi to not go, we are arranging for your food: CM Kejriwal
  • Chief Minister Arvind Kejriwal appeals to people to fight coronavirus together

PRESS RELEASE
OFFICE OF THE CHIEF MINISTER
GOVT. OF NCT OF DELHI

New Delhi: Addressing a joint press conference with the Hon’ble LG of Delhi Mr. Anil Baijal, CM Arvind Kejriwal appealed to the people leaving Delhi in the wake of COVID-19 lockdown to stay. He said that food arrangements are being made for them. He appealed to the people belonging to states like Uttar Pradesh, Bihar, Jharkhand, and Bengal, to return from the border. He also said that pension of Rs. 5000 each has been transferred into the bank accounts of 8 lakh beneficiaries under widow, differently-abled and elderly pension schemes and Rs. 5000 will further be transferred in the first week of April. He also appealed to the people to fight Corona together.

Hon’ble LG addressed the video-conference at the beginning saying, “We had our regular meeting of the apex committee dealing with COVID-19. We have discussed various issues, we first saw whether the systems to ensure the supply of essential services to the people is working at the ground level or not, and how to solve the problems and obstacles, if any. We have also discussed going forward on how to deal with the surge in the virus and protect the people. We also decided on whatever is needed to improve and upgrade the medical healthcare services. We have also decided to continue as effectively as possible and combining the twin objective of providing supplies to the common man without any glitch. We discussed this strategy, and we will keep you informed.”

CM Arvind Kejriwal said, “All the administrative and officials, I and Hon’ble Lieutenant Governor conduct a meeting daily on the progress of the preparedness to deal with COVID-19 in Delhi. Things are functioning smoothly as of now. As I mentioned earlier today, the panel of doctors has created a detailed mapping if there is an outbreak. We have full confidence in our healthcare systems. There are 39 COVID positive cases in Delhi as of now. Out of these 29 cases had a travel history and 10 are via local transmission. The situation is under control right now, since there is no community transmission. But we have to be prepared and learn from the other nations. We have to think about whether we are ready to handle the outbreak in Delhi.”

“I had formed a team of five doctors under the chairmanship of Dr. Sareen, who is the head of ILBS hospital. The team has submitted its report yesterday, including a comprehensive plan of action on the preparations done in the wake of the surge in COVID-19 cases in Delhi. We have everything prepared if we get 100 new cases every day, if we get 500 new cases per day, or if we get 100 new cases every day. We have a detailed action plan for arranging isolation beds, ventilators, ICU beds, PPE, testing mechanisms and strength, ambulances, medical staff such as doctors and nurses, under each head of surge in cases by 100, 500, and 1000 new cases every day,” he added.

CM Arvind Kejriwal said, “Also, people are misinterpreting it as if we are saying that the cases are going to rise. We are not saying that, and are trying our best to contain the outbreak of the virus. The purpose of the lockdown by the Hon’ble Prime Minister is to contain the outbreak of the virus, but we are just avoiding taking a chance and preparing everything ahead.”

CM Arvind Kejriwal said that the Delhi government has also arranged for food for 2,00,000 beneficiaries from today. He said, “There can be some difficulties and errors on our part. I want to appeal to the media to keep intimating us on our mistakes. We will eventually be able to streamline the process in another two-three days.”

“Those who are leaving Delhi and going back to their home states, I want to appeal to them to come back because we are arranging for their food. Many social and religious organizations, along with the Delhi government, have come forward to help,” said the CM.

CM Kejriwal further announced 8 lakh beneficiaries have gotten their pensions worth Rs. 5,000 in their accounts, including 1,00,000 for differently-abled, 5,00,000 for elderly, and 2,00,000 for widow-pension scheme. Further transfer of Rs. 5000 each will be done in the first week of April.

“We need your support and I hope that we will be able to fight Corona together,” added the CM.


  • दिल्ली सरकार ने 8 लाख बुजुर्गों, विकलांगों और विधवा पेंशन लाभार्थियों के खाते में 5-5 हजार रुपये भेज दिए, अप्रैल के प्रथम सप्ताह में 5-5 हजार और देंगे – अरविंद केजरीवाल*
  • दिल्ली छोड़ कर जाने वालों से अपील, किसी को जाने की जरूरत नहीं, हम आपके खाने का इंतजाम कर रहे – अरविंद केजरीवाल*
  • मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी लोगों से मिलकर की कोरोना वायरस से लड़ने की अपील

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के खतरे और लाॅक डाउन की वजह से बेरोजगार हुए दूसरे प्रदेश के रहने वाले लोगों से दिल्ली छोड़ कर अपने घर नहीं जाने की अपील की है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सभी लोगों के खाने का इंतजाम किया जा रहा है। कोई भी दिल्ली छोड़ कर अपने घर न जाए। उन्होंने घर जा रहे उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व बंगाल समेत अन्य राज्य के लोगों से बार्डर से वापस लौटकर आने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि 8 लाख बुजुर्ग, विकलांग और विधवाओं के खाते में सरकार ने 5-5 हजार रुपये की सहायता राशि भेज दी है। अप्रैल के पहले सप्ताह में सभी के खाते में 5-5 हजार रुपये और भेज दिए जाएंगे। उन्होंने कोरोना से लड़ने के लिए सभी लोगों के सहयोग की अपील भी की है।

भगवान न करें ऐसा हो, लेकिन प्रतिदिन 1000 केस आते हैं तो उसका इंतजाम कर रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को नियंत्रित करने और लाॅक डाउन की वजह से लोगों को आ रही समस्याओं के ताजा हालात पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल के साथ बैठक कर समीक्षा की। इस दौरान दिल्ली सरकार के मंत्रियों के अलावा पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर समीक्षा की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि डाॅक्टर की एक टीम ने कोरोना के केस बढ़ने की दशा में की जाने वाली तैयारियों को लेकर विस्तार से अपनी रिपोर्ट दी है। हमें पूरा विश्वास है कि दिल्ली में जिस तरह से स्थिति अभी काबू में है, वैसी ही आगे भी रहेगी। अभी दिल्ली में कुल 39 केस हैं। 39 केस में से 39 विदेश से आए लोगों के हैं और मात्र 10 केस ऐसे हैं, जो स्थानीय संक्रमण के चलते हुए हैं। अभी स्थिति बहुत नियंत्रण में है। हम उम्मीद करते हैं और भगवान से प्रार्थना कर रहे हैं कि दिल्ली में कोरोना नहीं फैलेगा, लेकिन हम हाथ पर हाथ रख कर नहीं बैठेंगे। दूसरे देशों से अनुभव लेकर अगर हमें अपनी तरफ से तैयारियां करके रखनी पड़ेगी। अगर दिल्ली में कोरोना वायरस तेजी से फैलता है, तो क्या हम उसके लिए तैयार हैं। कहीं ऐसा न हो कि दिल्ली में अचानक फैल जाए और हम तैयार नहीं हों। इसलिए उसकी तैयारी के लिए हमने 5 डाॅक्टर की टीम बनाई थी। उन्होंने जो रिपोर्ट दी थी, उस रिपोर्ट के मुताबिक हमने सभी तैयारियां पूरी कर ली है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर 100 केस प्रतिदिन हों तो उसकी तैयारियां कर ली गई हैं। यह 100 केस कुल नहीं हैं। मसलन, 26 मार्च को कुल 36 केस थे। 27 मार्च को 39 केस हुए। एक दिन में 3 केस बढ़ गए। इसी तरह, अगर एक दिन में 100 केस बढ़ जाएंगे, तो उसके लिए भी हमारी तरफ से तैयारियां हो गई है। मान लीजिए कि एक दिन में 500 केस हो गए, तो उसके लिए भी हम तैयार हैं और एक दिन में 1000 केस भी बढ़ जाएंगे, तो उसके लिए भी दिल्ली सरकार तैयार है। इसके लिए सभी टेस्टिंग किट का इंतजाम कर लिया गया है। एंबुलेंस का इंतजाम कर लिया है। आईसीयू बेड का इंतजाम कर लिया है। हम पीपीपी का इंतजाम कर रहे है। थोड़ी कमी है, लेकिन इसका भी इंतजाम कर लेंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूर्व से की जा रही इन सब तैयारियों का मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि कोरोना बढ़ने वाला है। मैं बिल्कुल यह नहीं कह रहा हूं। हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि यह बिल्कुल भी न बढ़े। प्रधानमंत्री जी ने पूरे देश में लाॅक डाउन इसलिए ही किया है कि आगे न बढ़े। हमें उम्मीद भी है कि यह आगे नहीं बढ़ेगा, लेकिन हम अपनी तरफ से सभी तैयारियां कर रहे हैं। उन सभी तैयारियों को करने से हम लोग आश्वस्त हैं। भगवान न करे कि ऐसी स्थिति आए।

किसी को दिल्ली छोड़ कर जाने की जरूरत नहीं है, सभी के खाने का इंतजाम हम कर रहे- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज से हम लोग 2 लाख लोगों को खाने का इंतजाम किया है। खाने के दौरान हो सकता है कि थोड़ी-बहुत समस्याएं आएं। मैं यह नहीं कर रहा हूं कि कोई समस्या नहीं आएगी। यह भी नहीं कह रहे हैं कि हमारा इंतजाम पूरा पुख्ता है। हमारी कोई वहां पर गलतियां हो सकती हैं। मीडिया से निवेदन है कि आप हमारी गलतियां बताते रहिए, ताकि हम उन गलतियों को ठीक करते रहें। आप 2 लाख लोगों को खाना खिलाने का पहला दिन था। अब हम कल (28 मार्च) को 4 लाख लोगों के खाने का इंतजाम कर लेंगे। एक-दो दिन के अंदर अन्य चीजें सुचारू हो जाएंगी। उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल आदि के जितने लोग दिल्ली को छोड़ कर जा रहे हैं। उनसे मेरी हाथ जोड़ कर विनती है कि दिल्ली छोड़ कर आपको जाने की जरूरत नहीं है। आपके खाने का इंतजाम हम लोग कर रहे हैं। जो लोग बार्डर के पास पहुंच गए हैं, वे लोग वापस आ जाएं। आप सब के लिए हम जगह-जगह खाने का इंतजाम कर रहे हैं। खाने का इंतजाम सरकार भी कर रही है और कई सारी धार्मिक संस्थाएं और सामाजिक संस्थाएं भी कर रही हैं। इन सभी का हम धन्यवाद करते हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक अच्छी बात यह है कि 8 लाख लोगों के पेंशन का पैसा उनके खाते में पहुंच गया है। सभी के खाते में 5-5 हजार रुपये भेजे गए हैं। इसमें 5 लाख बुजुर्ग हैं, 1 लाख विकलांग हैं और 2 लाख विधवाओं की पेंशन है। इसके अलावा, इन लोगों के खाते में अप्रैल के पहले सप्ताह में 5-5 हजार रुपये और डाल देंगे। आप सभी लोगों का सहयोग चाहिए और हमें पूरी उम्मीद है कि हम सभी लोग मिल कर कोरोना का अच्छे से मुकाबला कर सकते हैं।