पर्याप्त मात्रा में राशन उपलब्ध, किसी लाभार्थी को घबराने की जरूरत नहीं- इमरान हुसैन


  • खाद्य मंत्री इमरान हुसैन ने तिमारपुर के विधायक दिलीप कुमार पांडेय के साथ किया राशन दुकानों और विद्यालय का औचक निरिक्षण
  • मंत्री इमरान हुसैन व विधायक दिलीप पांडे ने राशन लेने पहुंचे लाभार्थियों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की

दिल्ली के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री इमरान हुसैन ने शुक्रवार को तिमारपुर विधानसभा के विधायक दिलीप कुमार पांडे के साथ तिमारपुर क्षेत्र में स्थित सरकारी राशन की दुकानों व उन विद्यालयों में औचक निरीक्षण किया, जहां कोविड-19 महामारी से उत्पन्न स्थिति के बीच जरूरतमंदों को राशन व अन्य आवश्यक वस्तुओं से युक्त किट का वितरण किया जा रहा है। इस दौरान उन्होंने 4  सरकारी राशन की दुकानों और 1 नामित वितरण केंद्र (स्कूल) का औचक निरीक्षण कर जांच किया। निरीक्षण के दौरान खाद्य विभाग के सहायक आयुक्त, खाद्य आपूर्ति अधिकारी और खाद्य आपूर्ति निरीक्षकों का एक निरीक्षण दल भी मौजूद रहा।
निरीक्षण के दौरान, खाद्य मंत्री और विधायक ने पाया कि सभी राशन कार्ड लाभार्थियों को खाद्यान्न और रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं से युक्त किट का वितरण सुचारू और व्यवस्थित रूप से किया जा रहा है। इसके साथ ही, नामित स्कूलों में स्थित वितरण केंद्रों पर भी गैर पीडीएस लाभार्थियों को खाद्यान्न का वितरण सुचारू रूप से होता पाया गया। मंत्री ने पाया कि एफपीएस और स्कूलों में दिल्ली सरकार द्वारा तैनात सिविल डिफेन्स वालंटियर्स लाभार्थियों का कुशलता पूर्वक मार्ग दर्शन और प्रबंधन कर रहे हैं, जिसके फल स्वरूप सभी राशन दुकानों और नामित स्कूलों में लाभार्थी राशन प्राप्त करते समय फेस-मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों का पालन कर रहे हैं।
खाद्य मंत्री इमरान हुसैन और तिमारपुर के विधायक दिलीप पांडे ने निरिक्षण के दौरान लाभार्थियों से बातचीत भी की और पाया कि  लोग लॉकडाउन के दौरान दिल्ली सरकार द्वारा पीडीएस और गैर-पीडीएस लाभार्थियों के लिए किए जा रहे उपायों से संतुष्ट हैं।
खाद्य मंत्री इमरान हुसैन  ने  लोगों  को आश्वासन दिया कि राशन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। इसलिए किसी भी लाभार्थी को घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी लाभार्थियों को सामाजिक दूरी और अन्य निर्धारित मानदंडों का पालन करना चाहिए और यदि एफपीएस / नामित वितरण केंद्रों पर आत्याधिक भीड़ हो  या कोई वस्तु उपलब्ध नहीं हो,  तो वे ऐसी स्थिति में बाद में भी राशन लेने आ सकते हैं। उन्होंने जनता को आशवस्त किया कि राशन की दुकानें रोज़ाना  बिना किसी व्यवधान के या साप्ताहिक अवकाश के सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक और दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक खुली रहेंगी।
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि खाद्य वितरण सम्बन्धी किसी भी प्रकार की अनिमियतता या  किसी भी प्रकार की  शिकायत के निवारण  के लिए,  लाभार्थी हेल्पलाइन नंबर 1967 पर खाद्य विभाग से संपर्क कर सकते हैं ।