F&S minister reviews preparation of his department in the wake of the spread of Corona Virus


  • F&S minister reviews preparation of his department in the wake of the spread of Corona Virus.
  • F&S minister warns strict action against the hoarders and those selling essential commodities on overprice.

Office of Food & Civil Supply Minister
Government of Delhi
Press Release

New Delhi: Food & Civil Supplies and Consumer Affairs Minister Imran Hussain, convened a high level meeting today to review the arrangements of Food Supplies and Consumer Affairs Department for immediate supply of ration to National Food Security Act beneficiaries during the emergent situation arising due to COVID-19, Corona virus. Minister also reviewed the enforcement activities undertaken by Legal Metrology Department for ensuring smooth and uninterrupted supply of essential items such as sanitizers and face masks.

The meeting was attended by Commissioner, Food & Civil Supplies (CFS), Additional CFS and Controller (Legal Metrology).

F&S Minister sought action taken report (ATR) on the decision of Govt. of NCT of Delhi to supply free ration (wheat and rice) for the month of April, 2020. The GNCTD has decided to provide each NFS ration beneficiary with 7.5 Kg of food grains (including 6 Kg of wheat and 1.5 Kg of rice) in place of existing monthly entitlement of 5 kg of food grains (including 4 kg of wheat and 1 kg of rice) for each beneficiary for the month of April 2020. The Govt. has enhanced entitlement of NFS ration beneficiaries for the month of April 2020 by 50 % of existing entitlement thus making it 150%. Further this enhanced ration for the month of April, 2020 will be distributed ‘free of cost’ to all the beneficiaries from 30th March, 2020 by more than 2000 Fair Price Shops.

During the meeting, F&S Minister directed the F&S Department and Delhi State Civil Supplies Corporation (DSCSC) to ensure that all necessary measures are put in place for ensuring successful implementation of decision of Delhi Govt. to provide much needed relief to the ration beneficiaries conveniently and smoothly from 30th March 2020.

Imran Hussain further informed that in order to ensure that ration beneficiaries observe advisory and guidelines issued for better management of Fair Price Shops in the fight against the COVID-19, Corona Virus and also in order to supplement the efforts of FPS dealers for smooth and convenient ration distribution, for providing help to needy and infirm beneficiaries and for helping in consumer grievance redressal, one Civil Defense Volunteer per FPS in all the 2017 FPS will also be deputed by Delhi Govt.

In this regard, F&S Minister also directed the officers to take following measures immediately:-

  1. The distribution of the additional quantity of food grains over and above the entitlement under NFS Act shall be made from the allocation of food grains for month of May, 2020 delivered at Fair Price Shops (FPSs) which will be recouped subsequently through additional procurements from Food Corporation of India.
  2. Delhi State Civil Supplies Corporation Ltd. shall ensure delivery of food grains at all FPSs for allocation month of April and May, 2020 by 29th March, 2020 for distribution of enhanced quantity to start from 30th March, 2020.
  3. The entitlement of free SFAs for the allocation month of April, 2020 will be as under:

(a) Priority households (PR) and Priority-S households (PR-S) [Old BPL] will get 6 Kg wheat, 1.5 Kg rice per beneficiary member.
(b) Antyodaya Anna Yojana(AAY) households having up to 4 members will get 25 Kg wheat, 10kg rice and 1 Kg sugar per household.
(c) Antyodaya Anna Yojana(AAY) households having more than 4 members will get 6 Kg wheat per beneficiary member, 1.5 Kg rice per beneficiary member or 10 Kg per household, whichever is higher, 1 Kg sugar per household.

  1. The sale of Specified Food Articles under Public Distribution System will be allowed open by Circle FSOs/FSIs at Fair Price Shops before 29th March, 2020 for distribution to start from 30th March, 2020.
  2. Fair Price Shop dealers will be provided FPS Dealers Margin on distribution of the additional quantity of food grains, in addition to the margin money on distribution of normal entitlement of food grains.
  3. Fair Price Shops will distribute the food grains to the beneficiaries on all seven days of the week in public interest.
  4. Accounts for sale and distribution of SFAs under normal entitlement/allocation and special/additional entitlement/allocation shall be maintained by FPS holders separately for proper accounting and record management, to avoid any confusion at later stage.
  5. The availability and distribution of food grains at Fair Price Shops shall be closely monitored by Zonal Assistant Commissioners, Circle FSOs/FSIs. It shall be ensured that the commodities are distributed to the beneficiaries conveniently.
  6. FPS licensees should observe necessary precautions to ensure their safety and also of the beneficiaries while distributing ration. FPS licensees should ensure that beneficiaries do not make rush at the Fair Price Shops. They should inform the beneficiaries that the supply of ration would be available in sufficient quantity and beneficiaries may revisit in case there is rush at FPS. There should be no chaos and panic in getting their ration from FPSs.
  7. In case of queue, one meter distance between beneficiaries should be maintained. The beneficiaries should be encouraged to wear masks and use hand sanitizers.
  8. One Civil Defense Volunteer will be deployed at each Fair Price Shop to assist FPS holders in distribution of ration and crowd management.
  9. The arrangement of additional storage space for storage of food grains for distribution of enhanced/additional quantities may be made wherever required, for which guidelines are being issued separately.
    Further Hon’ble Minister directed for intensifying enforcement activities against the unscrupulous dealers amidst reports from certain quarters regarding overcharging of essential commodity especially of masks and sanitizers by dealers/chemists etc.
    Imran Hussain, Hon’ble Minister informed that Delhi Govt. is closely monitoring the situation and is taking all steps and measures for providing much needed relief to all the citizens especially poor and needy.

आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानें और फैक्ट्रियां 24 घंटे खुल सकती है, सरकार ने दी अनुमति, कोई अतिरिक्त लाइसेंस नहीं चाहिए – अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में ई-काॅमर्स कंपनियां आवश्यक वस्तुओं की कर सकती हैं होम डिलीवरी, कर्मचारियों के आईकार्ड होंगे मान्य – अरविंद केजरीवाल

  • एसडीएम और एसीपी को अपने क्षेत्र में जरूरी सामान, सब्जी, किराना, राशन, दवा की दुकान और उन्हें बनाने वाली फैक्ट्रियों को खोलना सुनिश्चित करना होगा – अरविंद केजरीवाल
  • दिल्ली पुलिस को कहा गया है कि जरूरी सामान लेकर जा रहे व्यक्ति को बिना ई-पास के भी जाने दिया जाए- अरविंद केजरीवाल
  • अभी तक दिल्ली में 36 कोरोना के मरीज, 26 विदेश से आए और 10 लोगों को उनके संपर्क में आने से फैला – अरविंद केजरीवाल

दिल्ली सरकार ने कोरोना के मद्देनजर किए गए लाॅक डाउन के दौरान लोगों तक आवश्यक सेवाओं से जुड़ी वस्तुएं आसानी से पहुंचाने के लिए महत्वपूर्ण फैसले ली है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोगों की सुविधा के मद्देनजर आवश्यक सेवाओं से जुड़ी ई-कामर्स कंपनियों को होम डिलीवरी करने की अनुमति दे दी गई है। ऐसी कंपनियों के कर्मचारी अपना आईकार्ड दिखा कर सेवा दे सकते हैं। डीएम, डीसीपी, एसडीएम और एसपीपी को अपने क्षेत्र में जरूरी सामान, सब्जी, किराना, राशन, दवा की दुकानें और दवा बनाने वाली फैक्ट्रियों को खोलना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। अब आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानें 24 घंटे खोले रखने की अनुमति दे दी गई है, ताकि दिन में दुकानों पर अनावश्यक भीड़ न लगे। दिल्ली पुलिस को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले लोगों को बिना पास भी जाने की अनुमति देने के लिए निर्देशित किया गया है। दिल्ली में एक और मरीज बढ़ गया है और कुल 36 केस हो गए हैं।

दिल्ली में कोरोना के प्रकोप की रोकथाम और लाॅक डाउन के दौरान लोगों तक आवश्यक सेवाएं पहुंचाने को लेकर एलजी अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पुलिस और प्रसाशनिक अधिकारियों के साथ बैठक कर वर्तमान हालात की समीक्षा की। बैठक के बाद एलजी अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संयुक्त रूप से डिजिटल प्रेस वार्ता कर लोगों को बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसलों की जानकारी दी।

आवश्यक वस्तुएं लोगों तक पहुंचाना सुनिश्चित कर रही सरकार- एलजी

एलजी अनिल बैजल ने कहा कि दिल्ली की जनता सरकार के साथ सहयोग कर रही है और लाॅक डाउन का पूरी तरह से पालन कर रही है। कुछ समस्याएं हमारे सामने आई हैं, उनका हल भी निकाला जा रहा है। लोगों को आवश्यक सेवाएं शीघ्र मिल सके, इसके लिए सरकार ने आॅनलाइन सेवाएं उपलब्ध कराने वाले लोगों को अनुमति दी है। पुलिस को भी सहयोग करने की हिदायत दे दी गई है। पुलिस ने भी अपना आदेश जारी कर दिया है। ई-काॅमर्स कंपनियों से एक तबके को आवश्यक वस्तुएं की मिल जाएंगी। आवश्यक वस्तुएं जमीनी स्तर पर लोगों तक पहुंच रही है या नहीं, इसके लिए सरकार ने सभी डीएम, डीसीपी, एसडीएम और एससीपी को वीडियो कांफ्रेंसिंग कर साफ-साफ कहा गया है कि यह सुनिश्चित करना उनकी ड्यूटी है कि दुकानें खुली रहें और वह दुकानें आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई कर रही हों। एलजी ने कहा कि फैसला लिया गया है कि दिन में अधिक भीड़ न हो, इसके लिए हम 24 घंटे आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को खोलने की अनुमति दे रहे हैं। जो लोग 24 घंटे दुकानें खोलना चाहते हैं, वह खोल सकते हैं। यह सभी के लिए आवश्यक नहीं है। लेकिन जो लोग खोलना चाहते हैं, वो खोल सकते हैं।

दिल्ली में हालात नियंत्रण में, सिर्फ जरूरी सामान लेने की घर से निकलें- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी तक दिल्ली में 36 केस हुए हैं। पिछले एक दिन में एक केस और बढ़ा है। कल तक दिल्ली में कुल 35 केस थे। इन 36 केस में से 26 केस विदेशों से आए लोगों के हैं और उन 26 लोगों की वजह से 10 और लोगों को हुआ है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। अभी यह लोगों में बीमारी फैल नहीं रही है। केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और आप सब लोगों ने मिल कर इसे अब तक नियंत्रित किया है और यह बहुत अच्छा है। अभी अपनी पीठ थपथपाने का समय नहीं है। अभी आने वाले समय में इसे और नियंत्रित करने का समय है। क्योंकि दूसरे देशों का अनुभव बताता है कि जब यह फैलता है तो बहुत तेजी से फैलता है। लाॅक डाउन के बाद अब ज्यादातर लोग अपने घरों में रहने लगे हैं। कुछ लोग अभी भी अपने घर में नहीं रह रहे हैं। उन सभी लोगों से मैं हाथ जोड़ कर विनती करना चाहता हूं कि कहीं कुछ लोगों की गलती से यह ज्यादा न फैल जाए। इसलिए सभी लोग अपने-अपने घरों में ही रहें। जब तक बहुत ज्यादा जरूरी नहीं हो और साग-सब्जी, दूध आदि लेने के लिए घर से बाहर न निकलना हो, तब तक बाहर न निकलें।

1031 पर फोन करने वालों को दे रहे ई-पास- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप लोगों तक सब्जियां, राशन का सामान, फल और दवाइयां आदि पहुंच सके, इसके लिए सरकार पूरा प्रयास कर रही है। जो लोग आवश्यक सेवाएं उपलब्ध कराते हैं, सब्जी बेचने रहे रेहड़ी वाले, दुकानदार, दवाई की दुकान, दवाई बनाने वाली फैक्ट्री के कर्मचारियों को सरकार ने ई-पास देना शुरू कर दिया है। किसी को पास के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है। ऐसे लोग हेल्प लाइन नंबर 1031 पर फोन करें। आपको बता दिया जाएगा कि किस नंबर पर वाट्सएप करना है और आपके वाट्सएप नंबर पर ही पास आ जाएगा। जिनको अपने कर्मचारियों के लिए पास की जरूरत है, वो भी आवेदन कर सकते हैं।

आवश्यक वस्तुएं लेकर जाने वाले लोगों को पुलिस न रोके- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज दिल्ली के सभी डीएम, डीसीपी और पुलिस कमिश्नर के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग पर मीटिंग हुई है। बैठक में तय किया गया है कि हर एसडीएम और एसीपी की यह सुनिश्चित करने की व्यक्तिगत ड्यूटी होगी कि उनके इलाके के अंदर सब्जी की दुकानें खुलें और वहां सब्जियां हों। किराना की दुकान खुलें और उसमें किराना का सामान हो। राशन की दुकानें खुलें और उसमें राशन हो। दवाइयों की दुकानें और उसमें दवाइयां हों। उसी तरह उनके इलाके में जितनी भी दवाइयां बनाने की फैक्ट्रियां और बेयर हाउसेज हैं, उन्हें भी खुलवाने और उसमें सामान होने की जिम्मेदारी एसडीएम और एसीपी की होगी।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सभी पुलिसकर्मियों से कहा गया है कि जब सड़क पर कोई दूध वाला दूध लेकर जा रहा है और उसके पास पहचान पत्र नहीं है, तो उसको बिना पहचान पत्र के ही जाने की अनुमति दे दी जाए। कोई सब्जी वाले के पास पहचान पत्र नहीं है, तो उसे भी अनुमति दे दी जाए। अगर हम देख रहे हैं कि आवश्यक सेवाओं को लेकर कोई व्यक्ति सड़क पर जा रहा है और उसके पास ई-पास नहीं है, तो उसे अनुमति दे दी जाए। ई-पास देने की प्रक्रिया चलती रहेगी, लेकिन उसे भी रोका न जाए।

होम डिलीवरी वाली कंपनियों को भी अनुमति दे दी गई है – अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक बड़ा फैसला लिया गया है कि होम डिलीवरी वाली कंपनियों को भी अनुमति दे दी गई है। होम डिलीवरी में काम करने वाले कर्मचारियों को कंपनी अपना आईकार्ड देती है, तो वह भी मान्य होगा। दुकानों पर भीड़ न लगे, इसके लिए फैसला लिया गया है कि आवश्यक सेवाओं से जुड़ी फैक्ट्रियां और दुकानें 24 घंटे काम कर सकती हैं।

कोई भी मोहल्ला क्लीनिक नहीं होगा बंद, डाॅक्टर और मरीज बरतेंगे ऐहतियात- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार के मोहल्ला क्लीनिक के एक डाॅक्टर में भी कोरोना वायरस पाया गया है। उन्हीं के परिवार में उनकी पत्नी और बेटी में भी कोरोना पाया गया है। यह हमारे लिए दुख की बात है। लेकिन यह गलत फहमी फैल रही है कि सभी मोहल्ला क्लीनिक बंद किए जा रहे हैं। मैं स्पष्ट कर दूं कि कोई भी मोहल्ला क्लीनिक बंद नहीं किया जा रहा है। अगर मोहल्ला क्लीनिक बंद कर दिए गए तो लोगों को दूर-दूर बड़े अस्पतालों में जाना पड़ेगा। मोहल्ला क्लीनिक खुलेंगे, लेकिन हम वहां पर पूरी ऐहतियात बरतेंगे। डाॅक्टर खुद भी और मरीजों से भी ऐहतियात बरतने के लिए कहेंगे। ताकि सभी सुरक्षित रहें। यह काफी कठिन परिस्थिति है। सभी लोग एक-दूसरे से सीख रहे हैं। कई सारी और राज्य सरकारें अच्छा काम कर रही हैं, उनसे भी हम लगातार संपर्क में हैं और उनसे सीख रहे हैं। इस समय आप सभी लोगों का साथ चाहिए। कई बड़ी संस्थाओं ने आगे बढ़ कर खाना वितरण में सरकार की मदद करना चाहती हैं। गरीबों को खाने का पैकेट देना चाहते हैं। हम सभी का धन्यवाद करना चाहते हैं।

जो भी डाॅक्टर, नर्स, टेक्निकल या पैरामेडिकल स्टाॅफ कोरोना वायरस से ग्रसित मरीज से सीधे संपर्क में रह रहे हैं, उनका हम लगातार जांच कराते रहेंगे – अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के जांच की सुविधा बढ़ा दी गई है। जो भी डाॅक्टर, नर्स, टेक्निकल या पैरामेडिकल स्टाॅफ कोरोना वायरस से ग्रसित मरीज से सीधे संपर्क में रह रहे हैं, उनका हम लगातार जांच कराते रहेंगे। ताकि समय पर जानकारी मिल सके और उनका इलाज किया जा सके।